मुहांसों से कैसे छुटकारा पाएं? – Pimples Treatment in Hindi

Pimples Treatment in Hindi. Chehare par dane ka ilaaj kiase Kare. Chehare ke muhanson se kaise chhutakara paye. Muhanson ka illaj. Dark spots and blemishes. Muhase hatane ka upay.

0
124

मुंहासे क्यों होते हैं?

मुहांसों से कैसे छुटकारा पाएं? Pimples Treatment in Hindi: मुंहासे (पिम्पल्स) आपके चेहरे और अन्य शरीर के हिस्सों पर त्वचा के नीचे होने वाले अंदरूनी बालबोटों में जमा होते हैं। इनका मुख्य कारण त्वचा के तंतु में बढ़ी हुई तैलीय ग्रंथियों की बंद हो जाना है, जिससे तैलीय मूढ़ा जम जाता है। यह जमने वाले तैलीय मूढ़े को बैक्टीरिया से भर जाने का आसान अवसर प्रदान करता है, जिससे मुंहासे होते हैं।

Pimples Treatment in Hindi
Pimples Treatment in Hindi

मुंहासों के होने के कुछ मुख्य कारण हो सकते हैं:

  1. हार्मोनल परिवर्तन: हर्मोन्स के परिवर्तन, जैसे कि किशोरावस्था, गर्भावस्था, या पीरियड्स के दौरान, त्वचा के तंतु में तैलीय ग्रंथियों की अधिक सक्रियता को बढ़ा सकते हैं, जिससे मुंहासे हो सकते हैं।
  2. त्वचा के प्रकार: कुछ लोगों की त्वचा तैलीय होती है, जिससे वे मुंहासे के झुलसने के अधिक प्रवृत्त होते हैं।
  3. अन्य कारण: त्वचा की सफाई का अच्छा तरीके से नहीं करना, बढ़ी हुई धूप में रहना, तंबाकू या तेल में अधिक तेलीय तत्वों का उपयोग करना, और तनाव भरा जीवनशैली भी मुंहासों के उद्भव को बढ़ा सकते हैं।

मुंहासों को कम करने के लिए आपको अच्छी तरह से त्वचा की सफाई करनी चाहिए, स्वस्थ आहार खाना, अधिक पानी पीना, और हाथों को साफ रखना महत्वपूर्ण है। यदि मुंहासे अधिक समस्याओं का कारण बन रहे हैं, तो आपको डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए, क्योंकि कुछ मामूली मुंहासे बड़ी तकलीफ देने वाले बीमारियों के लक्षण हो सकते हैं।

चेहरे के मुहांसों से कैसे छुटकारा पाएं?

Muhase se Kaise Chutkara Paye: चेहरे के मुहांसों (Pimples) से छुटकारा पाने के लिए आप निम्नलिखित तरीकों को अपना सकते हैं: Pimples Treatment in Hindi.

  1. अच्छी तरह से फेस क्लींजिंग करें: अपने चेहरे को दिन में कम से कम दो बार फेस क्लींजिंग करें। इससे चेहरे की त्वचा के मैल और बैक्टीरिया को हटाने में मदद मिलेगी।
  2. अपने आहार का ध्यान रखें: स्वस्थ आहार खाना मुहांसों / Muhase को कम करने में मदद कर सकता है। ज्यादा तली चीजें और चिप्स खाने से बचें, और हर दिन अधिकतर फल और सब्जियाँ खाएं।
  3. हाइड्रेशन: अपने शरीर को पर्याप्त पानी पिलाना मुहांसों से बचाव में मदद कर सकता है।
  4. सुरक्षित सूरज की किरणों से बचें: अधिक समय तक धूप में रहने से बचें और सूरज की किरणों से अपने चेहरे को बचाने के लिए सूरक्षा के उपायों का उपयोग करें, जैसे कि टोपी और सनस्क्रीन।
  5. नियमित रूप से व्यायाम करें: व्यायाम से आपके शरीर का प्रदूषण बाहर निकलता है और त्वचा की खराबी को कम कर सकता है।
  6. नियमित रूप से न्यूट्रिशन क्रीम का उपयोग करें: न्यूट्रिशन क्रीम मुहांसों को कम करने में मदद कर सकती है। एक बार अपने डॉक्टर से सलाह लें और उनकी सुझावों का पालन करें।
  7. हाथों को साफ रखें: हाथों को बार-बार धोकर और मुहांसों पर छूने से बचें, क्योंकि यह नए मुहांसों को फैलाने का कारण बन सकता है।
  8. डॉक्टर से सलाह: अगर आपके मुहांसे बहुत बड़े और परेशानीदायक हैं, तो डॉक्टर से सलाह लें। कुछ चिकित्सा उपचारों की सलाह देने में वे मदद कर सकते हैं।

ध्यान दें कि मुहांसों के इलाज के लिए सही उपाय का चयन करने के लिए आपको एक चिकित्सक से परामर्श लेना हमेशा बेहतर होता है, क्योंकि मुहांसों के कई कारण हो सकते हैं, जैसे कि त्वचा के प्रकार, बैक्टीरियल इंफेक्शन, और अन्य स्वास्थ्य समस्याएं।

चेहरे पर मुंहासे निकले तो क्या करें?

Muhase Hatane Ka Upay: चेहरे पर मुंहासे निकलने पर आप निम्नलिखित कदमों को फ़ॉलो कर सकते हैं:

  1. हाथों का सफा और स्वच्छ रखें: मुंहासों को छूने से पहले और छूने के बाद हमेशा हाथों को अच्छी तरह से धो लें। हाथों पर बैक्टीरिया हो सकते हैं जो मुंहासों को और ज्यादा बढ़ा सकते हैं.
  2. त्वचा की सफाई: अपने चेहरे को दिन में कम से कम दो बार फेस वॉश से धोएं, खासकर सुबह और रात को। एक मिल्ड और सलिसिलिक एसिड या बेंजोयल पेरॉक्साइड युक्त फेस वॉश का उपयोग कर सकते हैं, जो मुंहासों को कम करने में मदद कर सकते हैं।
  3. हिडन मुंहासों का सही तरीके से इलाज: मुंहासों को दबाने से बचें, क्योंकि यह इंफ्लेमेशन को बढ़ा सकता है और दाग या निशान छोड़ सकता है। इसके बजाय, हिडन मुंहासों को अपने डॉक्टर की सलाह लेकर सही तरीके से निकालने के लिए उपयोग करें।
  4. टॉपिकल उपचार: मुंहासों के लिए टॉपिकल उपचार जैसे कि सलिसिलिक एसिड या बेंजोयल पेरॉक्साइड क्रीम का उपयोग करें। आप इन्हें अपने डॉक्टर की सलाह के साथ उपयोग करें और उनके दिशानिर्देशों का पालन करें.
  5. संतुलित आहार: स्वस्थ आहार खाने में मदद कर सकता है मुंहासों को कम करने में। फल, सब्जियाँ, पूरी अनाज, और प्रोटीन युक्त आहार का सेवन करें।
  6. हानिकारक आदतों से बचें: धूप में लंबे समय तक रहने से बचें, और तंबाकू और अत्यधिक धूम्रपान से परहेज करें।
  7. स्ट्रेस को कम करें: स्ट्रेस भी मुंहासों के बढ़ने का कारण हो सकता है, इसलिए संतुलित और स्वास्थ मानसिक स्थिति के लिए प्रयास करें।
  8. डॉक्टर की सलाह: यदि मुंहासे बड़े हैं और स्वाभाविक उपायों से ठीक नहीं हो रहे हैं, तो डॉक्टर से सलाह लें। वे आपको उचित उपचार या दवाइयों का परामर्श देंगे।

यदि आपके मुंहासे बड़े हैं या ज्यादा दिक्कत देते हैं, तो डॉक्टर से सलाह लेना सबसे अच्छा होता है, क्योंकि वे आपके विशिष्ट समस्या का सही इलाज प्रदान कर सकते हैं।

इसे भी पढ़े: क्या चेहरे की चर्बी कम करना संभव है?

मुंहासे या मुहांसों के दाग कैसे हटाएं।

मुंहासे या मुहांसों के दाग को हटाने के लिए (Pimples Treatment in Hindi) निम्नलिखित कुछ उपाय कारगर हो सकते हैं। मुंहासों को हटाने के लिए आप इन   उपायों को अपना सकते हैं ।

  1. नियमित त्वचा की सफाई: अपने चेहरे को दिन में कम से कम दो बार साबुन और पानी से धोकर साफ रखें। मुंहासों को हटाने के लिए एक माइल्ड फेस वॉश का उपयोग करें और त्वचा को दिन में कम से कम दो बार धोएं।
  2. त्वचा की नमी बनाएं: त्वचा को हाइड्रेटेड रखने के लिए प्रतिदिन पानी पीने का ध्यान रखें और अपने आहार में फल और सब्जियां जैसे न्यूट्रिशन की चीजें शामिल करें।
  3. सनस्क्रीन का उपयोग करें: सूरज की किरणों से त्वचा की सुरक्षा के लिए सनस्क्रीन का उपयोग करें।
  4. उपयुक्त उपचार क्रीम: मुहांसों के दाग को हटाने के लिए टॉपिकल उपचार क्रीम जैसे कि विटामिन सी या आलोवेरा क्रीम का उपयोग करें।
  5. घरेलू नुस्खे: नींबू का रस, टी ट्री ऑयल, शहद, योग्य रूप से प्रयोग किया जा सकता है ताकि मुहांसों के दाग कम हो सकें।
  6. नियमित एक्सफोलिएशन: एक्सफोलिएशन त्वचा की मृदुता को बढ़ावा देता है और मुहांसों के दाग को हटाने में मदद कर सकता है। इसके लिए आप फेस स्क्रब या एक्सफोलिएटिंग क्रीम का उपयोग कर सकते हैं।
  7. हिडन मुंहासों का इलाज: मुंहासों को हिडन करने के लिए हिडन एक्सट्रैक्टर का उपयोग करें। यह डॉक्टर या डर्मैटोलॉजिस्ट के पास ही किया जाना चाहिए।
  8. टॉपिकल उपचार: सलिसिलिक एसिड या बेंजोयल पेरॉक्साइड क्रीम जैसे टॉपिकल उपचार का उपयोग करें। आप इन्हें मुंहास पर स्थानीय रूप से लगा सकते हैं, जो आपके ब्लैमिश के प्रकार पर निर्भर करता है।
  9. घरेलू उपचार: घरेलू उपायों में नींबू का रस, टी ट्री आयल, शहद, टमाटर का रस, अलोवेरा जेल, और टुलसी की पत्तियों का उपयोग कर सकते हैं।
  10. गर्म पानी कंप्रेस्स: गर्म पानी कंप्रेस्स का उपयोग करके मुंहासों को कम करने में मदद मिल सकती है। एक गर्म पानी की तौलिया या कप को चेहरे पर रखें, लेकिन ध्यान दें कि पानी बहुत गरम नहीं होना चाहिए।
  11. संतुलित आहार: स्वस्थ आहार खाने में मदद कर सकता है मुंहासों को हटाने में। फल, सब्जियाँ, पूरी अनाज, प्रोटीन, और पौष्टिक आहार का सेवन करें।
  12. नियमित त्वचा की देखभाल: नियमित त्वचा की देखभाल के लिए एक अच्छी त्वचा देखभाल करें।
  13. डॉक्टर की सलाह: यदि मुहांसों के दाग बहुत गंभीर हैं या दूरी नहीं जा रहे हैं, तो डॉक्टर से सलाह लें। उन्हें उचित उपचार सुझा सकते हैं, जैसे कि केमिकल पीलिंग, लेजर थेरेपी, या अन्य उपचार।

पिंपल (मुंहासे) हटाने का घरेलू उपाय

पिम्पल्स (मुंहासे) को हटाने के कुछ प्रभावी घरेलू उपाय (Pimples Treatment in Hindi) निम्नलिखित हैं:

  1. नींबू का रस: नींबू का रस पिम्पल्स को कम करने में मदद कर सकता है। नींबू का रस एंटीबैक्टीरियल गुण होता है जो मुंहासों को ठीक करने में मदद कर सकता है। नींबू का रस लो और नुकीला गिन्दी पर लगाएं, फिर 15-20 मिनट बाद धो लें।
  2. टी ट्री आयल: टी ट्री आयल एक प्राकृतिक एंटीसेप्टिक होता है और मुंहासों को कम करने में मदद कर सकता है। एक छोटी सी टिपणी में टी ट्री आयल लें और मुंहास पर लगाएं।
  3. शहद (Honey): शहद में एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो मुंहासों को कम करने में मदद कर सकते हैं। शहद को पिम्पल्स पर लगाएं और 15-20 मिनट बाद धो लें।
  4. अलोवेरा जेल: अलोवेरा जेल मुंहासों को शांत करने में मदद कर सकता है और त्वचा को सूखापन से बचाने में मदद कर सकता है।
  5. नीम (Neem) का पेस्ट: नीम के पत्तियों को पीसकर पेस्ट बनाएं और इसे पिम्पल्स पर लगाएं। नीम के एंटीबैक्टीरियल गुण मुंहासों को कम करने में मदद कर सकते हैं।
  6. मेथी (Fenugreek) के दाने: मेथी के दानों को पानी में भिगोकर पीस लें और उसका पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को पिम्पल्स पर लगाएं और फिर धो लें।
  7. हरा धनिया (Coriander) पेस्ट: हरे धनिये को पीसकर पेस्ट बनाएं और पिम्पल्स पर लगाएं। इससे मुंहासों को कम करने में मदद मिलती है।
  8. रोज़ नियमित त्वचा की देखभाल: रोज़ त्वचा को सही तरीके से साफ़ करें और नियमित त्वचा की देखभाल करें।

ध्यान दें कि यह घरेलू उपाय हैं और उनका प्रभाव व्यक्ति के त्वचा प्रकृति और परिस्थितियों पर निर्भर करता है।

इसे भी पढ़े: मोटापा कैसे कम करें।

क्या एलोवेरा जेल लगाना चेहरे के लिए फायदेमंद हो सकता है?

हां, एलोवेरा जेल को चेहरे के लिए फायदेमंद माना जाता है। एलोवेरा एक प्राकृतिक उपाय है जिसमें त्वचा के लिए कई सारे गुण होते हैं। निम्नलिखित हैं एलोवेरा जेल के चेहरे पर फायदे: Pimples Treatment in Hindi.

  1. सूखी त्वचा को नमी प्रदान करना: एलोवेरा त्वचा को आरामपूर्ण और नमीपूर्ण बनाता है, जिससे सूखी और तनावपूर्ण त्वचा को सुधारने में मदद मिलती है।
  2. मुहांसों का इलाज: एलोवेरा जेल मुहांसों के इलाज में मदद कर सकता है, क्योंकि इसमें एंटी-इन्फ्लैमेटरी गुण होते हैं जो त्वचा की सूजन को कम कर सकते हैं।
  3. त्वचा के दाग और निशानों का कमी करना: एलोवेरा जेल का नियमित उपयोग त्वचा के दाग, निशान, और त्वचा की छाल को कम करने में मदद कर सकता है।
  4. सूरज तंतु का इलाज: एलोवेरा त्वचा को सूरज की तंतु से बचाने और इसका इलाज करने में मदद कर सकता है।
  5. झुर्रियों की कमी: एलोवेरा जेल में विटामिन C और E के रूप में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो झुर्रियों को कम करने में मदद कर सकते हैं.

एलोवेरा जेल को सीधे त्वचा पर लगाने से पहले, आपको सुनस्क्रीन या सूरज की किरणों से बचाव के लिए अन्य सुरक्षा के उपायों का भी ध्यान रखना चाहिए। यदि आपकी त्वचा पर किसी उत्पाद का प्रतिक्रिया हो तो, तो आपको इसका उपयोग बंद करना चाहिए और डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

चेहरे पर काले दाग-धब्बे कैसे हटाएँ।

Pimples Treatment in hindi: चेहरे पर काले दाग और धब्बे (dark spots and blemishes) को हटाने के लिए निम्नलिखित तरीके आपकी मदद कर सकते हैं:

  1. सुरक्षा सूरज से: काले दागों और धब्बों की मुख्य वजह सूरज की किरणों का प्रभाव होता है। इसलिए धूप में बाहर जाने पर हमेशा सनस्क्रीन लगाएं और हेडगियर पहनें।
  2. त्वचा की देखभाल: नियमित त्वचा की सफाई और मॉइस्चराइज़ करना महत्वपूर्ण है। त्वचा को दिन में कम से कम दो बार धोएं और हाइड्रेट करने के लिए एक अच्छा मॉइस्चराइज़र उपयोग करें।
  3. टॉपिकल उपचार: कुछ टॉपिकल उपचार चेहरे के काले दागों को कम करने में मदद कर सकते हैं। विटामिन C और E युक्त क्रीम्स का उपयोग करने के बारे में डॉक्टर से परामर्श लें।
  4. अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड (AHA) या बीटा हाइड्रोक्सी एसिड (BHA) उपयोग: ये त्वचा को पॉलिश करने और काले दागों को हटाने में मदद कर सकते हैं।
  5. घरेलू नुस्खे: घरेलू नुस्खों में नींबू का रस, तुलसी की पत्तियाँ, आलोवेरा जेल, और टी ट्री आयल जैसे प्राकृतिक उपाय हो सकते हैं, जिनका नियमित उपयोग करने से काले दाग और धब्बे कम हो सकते हैं।
  6. प्रोफेशनल ट्रीटमेंट: यदि काले दाग और धब्बे ज्यादा गंभीर हैं और घरेलू उपायों से नहीं जाते हैं, तो डॉक्टर द्वारा प्राकृतिक उपचार की सलाह लें। ये प्रोफेशनल उपचार लेजर थेरेपी, केमिकल पीलिंग, और डर्माब्रेशन शामिल कर सकते हैं।
  7. स्वस्थ आहार: स्वस्थ आहार खाने में मदद कर सकता है काले दाग और धब्बों को कम करने में। फल, सब्जियाँ, पूरी अनाज, प्रोटीन, और पौष्टिक आहार का सेवन करें।

ध्यान दें कि काले दाग और धब्बों को हटाने में समय लग सकता है, इसलिए नियमित और संवेदनशील देखभाल के साथ सब्र रखें। यदि आपके लिए किसी निशित समस्या का सामना करना हो, तो डॉक्टर से सलाह लें, क्योंकि वे सबसे अच्छा उपचार सुझा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here